Anuradha Sharda Vedic Astrologer & Tarot Coach India

Bhavarth Ratnakar Course Part 4 Hindi

$95.00

Description

भावार्थ रत्नाकर कोर्स – भाग 4
प्राचीन शास्त्रों से ज्योतिष सीखें
अध्य्यन विषयवस्तु:

मारक:

  • षष्ठस्थ पापग्रह की महादशा मे अष्टमस्थ अष्टमेश अन्तरदशा का मारक होना
  • अष्टमस्थ पाप ग्रह की महादशा मे षष्ठस्थ पापग्रह की अन्तरदशा का मारक होना
  • बुधशुक्र का पञ्चमस्थ होने से परस्पर मारक होना
  • मङ्गलका पाप भाव का स्वामी होकर पञ्चमस्थ होने से मारकत्व प्राप्त होना
  • शुभभावाधिपति शनि का अन्य मारक से युत होने से प्रबल मारक होना
  • अष्टमेश का लग्नस्थ होने पर अपनी दशा मे मारक होना
  • दो या तीन पुत्रों की एकसाथ राहु दशाचलन होने पर दशा मध्य मे पिता का मृत्यु को प्राप्त होना

दशा फलित:

  • शनि शुक्र की अन्तरदशाओं का एक दूसरे की महादशा मे योगहीन होना
  • दशमेश तृतीयेश सम्बन्ध होने पर दशमेश की दशा योगप्रद तथा विक्रमेश की दशा का विशेष योगप्रद
    होना
  • पञ्चम, सप्तम, नवम के अधिपती स्वराशिस्थ होने पर उनकी दशा अन्तरदशाओंमे गङ्गास्नान होना
    (पितरों के कर्म के लिये)
  • मङ्गल की महादशा मे राहु, केतु,शनि तथा रवि की अन्तरदशाओं मे पिता का निधन संभव
  • गुरु-मङ्गल संबन्ध होने पर मङ्गल दशा प्रभावी तो गुरु दशा मध्यम फलप्रद
  • गुरु-चन्द्र मे संबन्ध होने पर चन्द्रदशा प्रभावी तो गुरु दशा मध्यम फलदायी होना

राजयोग:

  • केन्द्र-कोणस्थ राहु का दशा काल मे राजयोग
  • गुरु-बुध-शुक्र संबन्ध से धन -भाग्य तथा कीर्ति योग
  • शुक्र का गुरु या बुध से संबन्ध होने पर शुक्रदशा धनप्रद
  • गुरुदशा धननाशप्रद-बुध दशा मिश्रफलदा
  • रवि का अन्य ग्रहों से युति मे रवि दशा योगप्रद तो अन्य दशायें मध्यम फलप्रद
  • दो या ज्यादा ग्रहों का राहु से स्ंबन्ध होने पर प्रबल ग्रह के फल राहु ने स्वयं देना
  • राहु-सूर्य तथा शनि तृतीयस्थ होने पर राहु द्वारा भाग्यविक्रम योग
  • राहु दशन्तर्दशा मे तृतीयस्थ बुध का जातक को धैर्यहीन करना
  • भावेश तथा भावकारक युति से भाव से दृष्य वस्तु ओं मे बढोत्तरी
  • सम तथा विषम राशिस्थ ग्रह के मूलत्रिकोण तथा स्वराशि के फल देने का क्रम
  • भाग्यवान योग
  • क्षेत्रवान योग
  • चतुष्पादवृद्धि योग
  • दुःखदायक योग
  • ग्रहमालिका योग

कोर्स हाइलाइट्स

1. प्रारंभ तिथि – 15 मई 2022, रविवार
2. भाषा: हिंदी
3. माध्यम: ज़ूम
4. सत्रों की संख्या – 6
5. समय: शाम 7 बजे से रात 9 बजे IST
6. शुल्क – 6000 रुपये / $95
7. सभी प्रतिभागियों को रिकॉर्डिंग और पीडीएफ उपलब्ध कराया जाएगा।

शिक्षक: श्री चंद्रशेखर शर्मा
संपर्क करें: www.astroanuradha.com, या व्हाट्सएप +91 9111415550

X